Monday, 25 May 2015

चीर कर बहा दो लहू, दुश्मन के सीनेका... यही तो मजा है, हिन्दू होकर जीने का..!!!

चीर कर बहा दो लहू, दुश्मन के सीनेका...
यही तो मजा है, हिन्दू होकर जीने का..!!!

जितनी पाकिस्तान की जनसंख्या हैँ।
उतने भारत मेँ कैदी हैँ !
कैदियो को बोल दो सजा माफ ,
साला सुबह होते होते पाकिस्तान साफ !!
कसम है हर पढ़ने वाले को माँ भारती की कि जरुर शेयर करे
������ँAgar hindu ho toh share kro

No comments:

Post a Comment