Saturday, 9 May 2015

अर्ज़ किया है...



अर्ज़ किया है...





जली को आग कहते हैं,
बुझी को राख कहते हैं...

जो अस्सी साल वाला सोलह साल वाली को चो*
उसे आसाराम कहते हैं।


एकदम नया मेसेज है,दिल खोल के फॉरवर्ड करो।



No comments:

Post a Comment