Saturday, 30 May 2015

😊मुस्कुराओ.... 😊

😊मुस्कुराओ.... क्योंकि यह मनुष्य होने की पहली शर्त है। एक पशु कभी भी नहीं मुस्कुरा सकता।
😊मुस्कुराओ..... क्योंकि मुस्कान ही आपके चहरे का वास्तविक श्रंगार है। मुस्कान आपको किसी बहुमूल्य आभूषण के अभाव में भी सुन्दर दिखाएगी।
😊मुस्कुराओ..... क्योंकि दुनिया का हर आदमी खिले फूलों और खिले चेहरों को पसंद करता है।
😊मुस्कुराओ..... क्योंकि क्रोध में दिया गया आशीर्वाद भी बुरा लगता है और मुस्कुराकर कहे गए बुरे शब्द भी अच्छे लगते हैं।
😊मुस्कुराओ..... क्योंकि परिवार में रिश्ते तभी तक कायम रह पाते हैं जब तक हम एक दूसरे को देख कर मुस्कुराते रहते हैं।
☺मुस्कुराओ..... क्योंकि आपकी हँसी किसी की ख़ुशी का कारण बन सकती है।
☺मुस्कुराओ..... कहीं आपको देखकर कोई किसी गलत फहमी में न पड़ जाए क्योंकि मुस्कराना जिन्दा होने की पहली शर्त भी है।

No comments:

Post a Comment