Saturday, 9 May 2015

कोई ढंग का जबाब हो तो जरूर बताना...........

मैनें आज तक शंकर छाप तंबाकू, गणेश छाप बीडी, लक्ष्मी छाप पटाखे और जय माँ अम्बे झटका मीट बिकते देखी है ______
लेकिन,
आज तक मेनें
अल्लाह छाप गुटका,
खुदा बीडी और
जीसस छाप तंबाकू बिकते नहीं देखा,
ऐसा क्यों ?
.
.
.
कोई ढंग का जबाब हो तो जरूर बताना...........

क्योंकि भाई इन सभी उत्पादों के ज्यादातर उत्पादक हिन्दू हैं और हिन्दुओं की सोच रहती है कि अपने व्यवसाय का नाम अपने इष्ट देव के नाम पर हो परन्तु ऐसे व्यक्तियों को यह तो सोचना चाहिए कि वो किस उत्पाद का उत्पादन कर रहे हैं।
दरअसल हिन्दुओं की सोच कहीं न कहीं यह रहती है कि भगवान का नाम लिखने से उसका उत्पाद की बिक्री अच्छी होगी.

Think before doing.

No comments:

Post a Comment