Thursday, 14 May 2015

उनकी गली से गुज़रे, तो चौबारा नज़र आया;

उनकी गली से गुज़रे, तो चौबारा नज़र आया;
उनकी गली से गुज़रे, तो चौबारा नज़र आया;
उसकी माँ बाहर आ कर बोली:




गांड फाड़ दूंगी भोसड़ी के, जो दोबारा नज़र आया!

No comments:

Post a Comment