Sunday, 24 May 2015

सरदार तालाब में नंगा नहा रहा था, बाहर आ के देखा कपड़े ग़ायब .

������������������
सरदार तालाब में नंगा नहा रहा था,
  बाहर आ के देखा कपड़े ग़ायब .

अंधेरा होने तक पानी में रहा, फीर अपने बाल खोल कर घर की तरफ़ भागा

बन्ता ने सरदार को लड़की समझ कर पीछे से पकड़ा और पीछे से ही शुरू हो गया
..

करते करते आगे हाथ डाला और बोला,

"बेहेनचोद ज़िन्दगी में  आज पहली बार  आर पार हुआ है...,"������������������������������������������������

No comments:

Post a Comment